Tag: एक ख्याल

एक ख्याल — डी के निवातिया

एक ख्याल ***@*** अक्सर मेरे घर आने से कतराने लगे है मेरे अपने चाहने वाले लोग   क्योकि झुकना उनकी शान के खिलाफ है इधर मेरे घर की चौखट …