Tag: अशआर

बुलन्द अशआर—महावीर उत्तरांचली

ज़िन्दगी हमको मिली है चन्द रोज़ मौज-मस्ती लाज़मी है चन्द रोज़ प्यार का मौसम जवाँ है दोस्तो प्यार की महफ़िल सजी है चन्द रोज़ //१.// काश ! की दर्द …