Author: Kritika Bhatia

Ouch! It hurts

कभी भी, इस नाज़ुक दिल को न दुखाना। क्योंकि इसकी मरम्मत के लिए, लगेगा एक पूरा ज़माना। इसे नज़रअंदाज़, करने की हिम्मत न करना। क्योंकि यह दिल, दूसरे दिलों …

दहलीज

इस दुनिया में, हज़ारों दहलीज़ मिलेंगे, जैसे घर का दहलीज़, दफ्तर का दहलीज़, इत्यादि। इन सब में प्रवेश करना आसान है, इनका कोई नियम नहीं, यहाँ हर कोई आता-जाता …

एक महिला की ताकत

उसूल बने है, तोड्ने के लिए। परिवार बना है, जोड्ने के लिए। एक महिला अपना सब कुछ त्याग कर, आती है घर बसाने के लिए। एक मकान को, स्वर्ग …

मोहब्बत

इस एह्सास को, दबाकर नही रखते, झलकने दो इसे, अपने चेहरे पे। जितनी मोहब्बत करोगे, इस दुनिया से, उतने ही सन्तुष्ट रहोगे, किसी भी बात पर दुखी नही रहोगे। …