Author: Kajalsoni

जिंदगी……. काजल सोनी

देकर ठोकरें जीना सिखाती है जिंदगी सच्चाई सबकी सामने लाती है जिंदगी। सिलसिला कुछ उतार चढ़ाव का देकर कभी हंसाती तो कभी रुलाती है जिंदगी। खोई थी मै तो …

होली (हायकु)……. काजल सोनी

होली आयी रे रंगों की भरमार उमड़े प्यार तरसे मन भीगते अंग अंग फैली उमंग फुले पलास मग्न मुग्ध आकाश जगाये आस नाचे गोपियां ठुमके मेरो कृष्णा रचाये रास …

मेरी कलम 10…..काजल सोनी

कामयाबी ने फरमान भेजा कि पा ले मुझे….. मगर जिम्मेदारी ने मेरे वहाँ तक पहुँचने न दिया…….! खुले दिल का था जो हारता रहा सबसे….. मगर खुशमिजाजी ने मेरे …

मेरी कलम 8…….काजल सोनी

मुश्किल घड़ी में अपने बड़े याद आते हैं मगर कोई अपने आते नहीं……। इंसान की गलतियों में लोग सभी समझाते हैं मगर उसे समझते नहीं…….। किसी की हार में …

जमाना….. काजल सोनी

लोग डरते हैं जमाने से….. कि जमाना क्या कहेगा…. और अक्सर फैसले बदल दिया करते हैं….. जो फैसला नहीं बदलते….. वो आशिक कहे जाते हैं या पागल….. पर जमाना …

जिंदगी की किताब…… काजल सोनी

तीन पन्ने हैं हमारी जिंदगी की किताब में…. पहला पन्ना पलट चुका है जिसे हम दुबारा नहीं पलट सकते …… तीसरा पन्ना जो वक्त आने पर खुद ब खुद …