Author: Deepak Nambiar

अनोखी अनुभूति !!

ये अनुभूति  जिन्दगी  में एक बार एहसास करना चाहिए  ये अनुभूति  जिन्दगी  में हमें अपनाना चाहिए    एक बार हम इससे  आबाद हुए तो  दिल की  विशालता बड़ जायेगी और  दूध की  तरह शुद्ध …

मेरी अम्मा

मेरी नज़रों की पहली ख़ुशी तुम ही है अम्मा मेरी पहली दुधिया मुस्कान तुमको देखके ही है अम्मा   तुम्हारी हाथ पकडके चलना सीखा है अम्मा तुमने ही हाथ …