Author: Markand Dave

साथ ।

बुरे वक़्त में, साथ दिया था जिन-जिन का, हर वक़्त मैंने, कह कर, आज धतकार दिया, सब ने, `हम तुम्हें जानते नहीं..!` धतकारना = अपमानित करना; मार्कण्ड दवे । …

दीवाली के पावन पर्व पर ढेरों शुभकामनाएं |

आप सभी प्यारे दोस्तों को दीवाली के पावन पर्व पर ढ़ेरों शुभकामनाएं, आप के जीवन में स्मित का प्रकाश हमेशा कायम रहे यही ईश्वर प्रार्थना के साथ – मार्कण्ड …

ऐनक । – आदत ।

दिल की आँखों के, ऐनक बदलने पड़ेंगे शायद, साफ दिखाई नहीं देते, उनके इरादों के रंग..! ऐनक = चश्मा; मार्कण्ड दवे । दिनांकः २० अगस्त २०१६. कैसी ख़राब आदतें …