Author: arun kumar jha

देश जीतेगा =अरुण कुमार झा बिट्टू

देश जीता हैं देश जीतेगा। मोदी जी की सेना ही रेस जीतेगा। मोदी जी की सेना में जनता की भागीदारी हैं। उनको हैं जितना देश भक्तो की जिम्मेदारी हैं। …

देश बचाओ – अरुण कुमार झा बिट्टू

राजनीति में कुछ एैसे गद्दार हैं आए। वोट से उनको मतलब हैं देश भाड़ में जाए। अरे क्या बोलते हैं ये पहले सोच तो ले। क्या औकात रखते हो …

ऐ मासूम दिल – अरुण कुमार झा बिट्टू

ऐ मासूम दिल तू जवान क्यों हुआ । दुनिया की भिन्न बातो से पहचान क्यों हुआ । पहचान तो ठीक था गलत नहीं है ज्ञान। ये ज्ञान तेरे जहण …

बेदर्दी बदरी – अरुण कुमार झा बिट्टू

मैंने बेदर्दी बदरी से उम्मीद लगा कर रखी हैं । देखो कब वो बरसती हैं । देखा तो मुझको करती हैं । उसके नैना बेदर्दी हैं । बेदर्दी हैं …

अो धर्म के नुमाइंदे – अरुण कुमार झा बिट्टू

ओ धर्म के नुमाइंदे तुम मौन हो धर्म के नाम पर बाटने वाले आखिर तुम कौन हो । तुम कहते हो राम रहीम इशा नहीं एक हैं । सभी …

अरुण कुमार झा बिट्टू की शायरी

१- आजमा कर देखो प्यार किसी और का हजूर। पर मेरी प्यार ना तुमसे भूली जाएगी। कुछ पल तो भटकोगे ,कोई और होगा खाश। आखिरकार मेरा प्यार तुमको खीच …

उम्मीद – अरुण कुमार झा बिट्टू

उम्मीद ना छोड़े रे बंदे , उम्मीद न छोड़े कल होगा सब कुछ ठीक तू ये यकीन ना तोरे आज बिगड़े हैं हालात तो क्या भूले हैं अपने आज …

मुकाम – अरुण कुमार झा बिट्टू

बस जिंदगी में इतना मुकाम चाहता हूं। जो काम आए सबके वो काम चाहता हूं। अपने लिए तो जीते हैं सब इस जमीं पे औरोकेलिए अपना सुबेह शाम चाहता …

शहीद के. मनोज पाण्डे

प्रणाम करो इस धरती को, ये धरती बड़ी सौभागी हैं। ये मनोज पाण्डे की जननी हैं। ये उनके शोर्य की दर्शी हैं। वो कारगिल का रण यारो, दुश्मन शिखर …

पाकिस्तान तेरा परमानेंट इलाज करेंगे

बहुत सहे वार अब आर पार करेंगे ऐ पाकिस्तान तेरा परमानेंट इलाज करेगे कब तक तेरे संग शांन्ति वार्ता करे लातो के भूत कही बातो से मने अबकी बार …

विधानसभा – अरूण कुमार झा बिट्टू

खूब दिखा भाई शिष्टाचार सपा विधायक दल के। कागज के टुकड़े फैक रहे थे डेक्स पे उछल उछल के। कैसे रहती आप पिर पीछे , इसने किया कुछ बढ …

ऐ कैसा सीन हैं – अरूण कुमार झा बिट्टू

हाय पश्चिम बंगाल तेरा आज ऐ कैसा सीन है कानून बचाने वाला ही चोरो संग आसीन हैं अब क्या इस देश में जाच भी नही होगी पूछ ताछ करने …

मुहाब्बत

आज कल मुहाब्बत बदनाम हो गया हैं चर्चा गली मुहल्ले सरेआम हो गया हैैैै बन गया है शौदा कुछ पाने की है चाहत क्योकी जिस्म आशिकोका मुकाम हो गया …