नींदवाली स्वप्न

नींदवाली स्वप्न
——————-

रात की नींद में
स्वप्न देखती है लड़की
हंसती है निश्चिंत होकर
खुशी से जाती है
और दौड़ती रहती है
रंगीन तितलियों के पीछे
पंक्षी बनकर उड़ती रहती है
अनंत नीले आस्मां में
वह सैर करती है बागवान की
और फूल चुनकर
माला में पिरोती है
आपने प्रेमी के लिए

जब जागती है
तब देखती है
वह नरम गद्दी पर नहीं
आँगन बुहारने रहती है व्यस्त
गौशाला की गोबर
साफ करती है
और जलावन लाती है
जंगल से सहेलियों के साथ
सूर्योदय के साथ
जाती है वः गाय चराने
उसकी निंदवाली स्वप्न
पूरी टूट जाती है
और वह चारागाह की मैदान में ही
डूबकर खो जाती है।

8 Comments

  1. arun kumar jha arun kumar jha 21/07/2017
    • chandramohan kisku chandramohan kisku 24/07/2017
  2. C.M. Sharma babucm 22/07/2017
    • chandramohan kisku chandramohan kisku 24/07/2017
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 22/07/2017
    • chandramohan kisku chandramohan kisku 24/07/2017
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/07/2017
    • chandramohan kisku chandramohan kisku 24/07/2017

Leave a Reply