रिश्तों से ही, ज़िन्दगी है चलती – अनु महेश्वरी

दिलों के बीच अगर, फासले आ जाते है
रिश्ते भी तब हाथ से, फिसलने लग जाते है
रिश्तों को अगर है संभालना,
एक दूसरे का मान तब रखना,
एक बार दरार जो पर गयी तो,
उसको पाटना मुश्किल है होता,
ज़िन्दगी में मुश्किलें तो आती रहेगी,
अपने रिश्तों को न बिखरने दे कभी,
बड़ी मुश्किल से सच्चे रिश्ते है बनते,
इन्हे कभी भी न दे हार जाने,
अगर न रहे, रिश्ते ही,
ज़िन्दगी में और कुछ भी नहीं,
रिश्तों से ही, ज़िन्दगी है चलती,
रिश्तों से ही, खुशिया है मिलती।

 

अनु महेश्वरी
चेन्नई

24 Comments

    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  1. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 15/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 15/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  3. prinku 15/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  4. chandramohan kisku chandramohan kisku 15/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  5. Bhawana Kumari Bhawana Kumari 15/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  6. arun kumar jha arun kumar jha 15/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  7. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 16/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  8. SARVESH KUMAR MARUT SARVESH KUMAR MARUT 16/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/07/2017
  9. C.M. Sharma babucm 16/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 17/07/2017
  10. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 17/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 17/07/2017
  11. bhawna 10/08/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 11/08/2017

Leave a Reply