चीनीमुक्त भारत कर दो

देश पर संकट छाया है
चीन ने आँख दिखाया है
है शक्तिशाली सब से
सैन्य शक्ति बड़ी है हम से
तीन गुणा है रक्षा बजट
मन में आयी उसके कपट
देश को ललकारा है
हिन्द को धमकाया है !!

है सुदृढ़ उसकी अर्थव्यवस्था
तकनीक में भी हमसे है बड़ा
हमसे बड़ी है उसकी जनसँख्या
है बड़ी हमसे सैनिक संख्या
चाहे जितना भी लगालें हम जोर
लड़कर होंगे हम भारी कमजोर
कौरव के आगे कितना टिक पाएंगे
बहादुर सैनिक हम कितने कटवाएंगे !!

अरे कृष्ण की चाल चलनी होगी
उसके रीढ़ पर वार करनी होगी
बड़ी संख्या, है बड़ी सैनिक बल
इसी ताकत में, है अपना भी हल
अर्थव्यवस्था करो उसकी कमजोर
सब मिलकर लगादो अब जोर !!

चीनी का बहिष्कार करो
चीनी मुक्त भारत कर दो !!

अब न फोड़ो चीनी पटाखे
अब न जलाओं चीनी दिये
रक्षाबंधन में बांधो धागे
न बांधो चीनी रेशम वाले
मोबाइल टीवी हो या हो खिलौने
न लेंगे हम, भले मिले औने पौने !!

अब भक्ति अपनी उसे दिखला दो
हिन्द की ताकत उसे अब बतला दो !!

यदि ऐसा प्रण हम सब कर लें
खोखली अर्थव्यवस्था उसकी कर दें
भारी रसद कारतूस और गोले
जुटाएगा फिर वह कैसे
इतने बड़े सैनिक बल को
फिर रख पायेगा कैसे
तकनीक उसकी धरी रह जायेगी
बेरोजगारी भुखमरी छा जाएगी
अर्थव्यवस्था होगी चकनाचूर
सैन्य बजट हो जाएगी फुर्र
खुद लड़खड़ाकर गिर जायेगा
बिन मारे ही वह मर जायेगा !!

हमने उसका बाज़ार है सजाया
सर पर हमने ही उसे है बिठाया
हमें दलगत से ऊपर उठना होगा
भारत को एक सुर में आना होगा
सबको भागीदारी निभानी होगी
गोरों से फिर हमें लड़ना होगा
चीन को ऐसे सबक सिखाना होगा
छोटी आँखों को झुकना हीं होगा !!

10 Comments

  1. babucm babucm 13/07/2017
    • श्याम दत्त मिश्रा श्याम 13/07/2017
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 13/07/2017
    • श्याम दत्त मिश्रा श्याम 13/07/2017
  3. chandramohan kisku chandramohan kisku 13/07/2017
    • श्याम दत्त मिश्रा श्याम 13/07/2017
  4. arun kumar jha arun kumar jha 13/07/2017
  5. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 13/07/2017
  6. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 14/07/2017

Leave a Reply