आभार…..सी.एम्. शर्मा (बब्बू)….

चतुर्थी है आज चैत्र नवरात्री की…
तुम्हारा अवतरण दिवस…
लक्ष्मी रूप में हमारे घर…
मेरी चाहत..मेरी मन्नत….
तुमने पूरी की….
आभार मेरे रोम रोम से….
तेरा…
मेरी प्यारी सी गुड़िया…
मेरी परी…
ज़िन्दगी मेरी की….
हर ख़ुशी….
\
/सी.एम्. शर्मा (बब्बू)

(ये पंक्तियाँ मैंने लिखी थी जब ‘बेटी’ का जन्म हुआ था…अंतिम २ पंक्तियाँ इसमें जोड़ी है मैंने…’मेरी परी’ तक थी तब ये रचना)

18 Comments

  1. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 04/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
  2. angel yadav Anjali yadav 04/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
  4. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 04/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
  5. arun kumar jha arun kumar jha 04/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
  6. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 05/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
  7. Madhu tiwari madhu tiwari 05/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017
  8. shivdutt 05/07/2017
    • babucm babucm 06/07/2017

Leave a Reply