परिवार – अनु महेश्वरी

जहाँ बचपन की अनगिनत रहती है यादे,
कुछ दिलों में और कुछ एल्बम के पन्नो में,
जहाँ कुछ भी बोल, अपना दर्द हल्का कर सकते,
रिश्ते जहाँ समय के साथ, गहरे और पक्के होते,
उसे ही तो इस जहाँ में, हम परिवार है कहते|

जहाँ चोट एक को लगे तो,
पीड़ा सबके चेहरे पे है दिखती,
जहाँ सफलता एक को मिले तो,
खुशियाँ सबके चेहरे पे है खिलती,
उसे ही तो इस जहाँ में, हम परिवार है कहते|

जहाँ मन का गुस्सा निकालो, तो भी,
रिश्ते टूटते नहीं, न ही दूरियां है आती,
क्योंकि यह तो कांच के बने, नहीं होते,
इसलिए टुकड़े टुकड़े हो, कभी बिखरते नहीं,
उसे ही तो इस जहाँ में, हम परिवार है कहते|

हर मुश्किल घड़ी में, एक जो हो जाते,
रहे चाहे दूर दूर, पर पास आ ही जाते,
हर मसले का हल, मिलकर ही ढूंढा जाता,
अपने से पहले, दूसरे की, ख़ुशी देखि जाती,
उसे ही तो इस जहाँ में, हम परिवार है कहते|

आपस में चाहे, हो अनबन कभी,
घर को आंच, न लगने देते कभी,
बाहर के लोग, कुछ कह दे अगर,
एकजुट हो जाते है, फिर से सभी,
उसे ही तो इस जहाँ में, हम परिवार है कहते|

अनु महेश्वरी
चेन्नई

20 Comments

  1. SARVESH KUMAR MARUT SARVESH KUMAR MARUT 01/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 01/07/2017
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 01/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 01/07/2017
  3. C.M. Sharma babucm 01/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 01/07/2017
  4. arun kumar jha arun kumar jha 01/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 01/07/2017
  5. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 01/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 01/07/2017
  6. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 01/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 02/07/2017
  7. angel yadav Anjali yadav 02/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 02/07/2017
  8. Madhu tiwari madhu tiwari 02/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 02/07/2017
  9. Kajalsoni 03/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/07/2017
  10. Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 03/07/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 03/07/2017

Leave a Reply