सावन के बदरा — डी के निवातिया

सावन के बदरा

ये सावन के बदरा भी बड़े निगोड़े है, मेरे दिलबर की तरह !
रोज़ उमड़ उमड़ आते है, बिन बरसे पास से गुज़र जाते है !!

!
!
!
डी के निवातिया

20 Comments

  1. arun kumar jha arun kumar jha 28/06/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  2. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 28/06/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  3. Kajalsoni 28/06/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  4. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 28/06/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  5. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/06/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  6. C.M. Sharma babucm 29/06/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  7. raquimali raquimali 29/06/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  8. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 02/07/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
      • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
  9. Shyam Shyam tiwari 04/07/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/07/2017

Leave a Reply