झूठ बिके बेमोल — डी के निवातिया

झूठ बिके बेमोल

झूठ के संग झूठ चले, सच ना सच के साथ!

चोरो की टोलिया बने, साद अकेले हाथ !!

साँच खड़ा बाजार मेंझूठ बिके बेमोल !

नेता अफसर सब बिके, नोटों में है तोल !!

 

-:: डी के निवातिया ::-

32 Comments