एक ख्वाहिश

महसूस करू तेरे दर्द को ,
तेरे दर्द में खो जाऊ मै .
भुला दू सारा अपना दर्द ,
अपने को तुझमे पाऊ मै .
तुझे तुझसे दूर न जाने दू ,
तेरे पास अपने दर्द को ,
न भटकाऊ मै .
आकर तेरे ख्वाबो की दुनिया में
कुछ इस तरह सजाऊ मै ,
महसूस करा दू ,
सारे जहां की ख़ुशी मै ,
जब तुझे सीने से लगाऊ मै.
महसूस करू तेरे दर्द को ,
तेरे दर्द में खो जाऊ मै .
बिछड़े पर दूरी का अहसास न हो ,
ऐसा वो बंधन बांध जाऊ मै .
जब तू बैठा हो सूनेपन में ,
उड़ती हवा में तितली बन जाऊ मै ,
तेरे सूनेपन की तन्हाई को ,
पल भर में दूर भगाऊ मै .
महसूस करू तेरे दर्द को ,
तेरे दर्द में खो जाऊ मै .
बिताये तेरे साथ पलो को ,
मुट्ठी में कर जाऊ मै ,
अगर मौत भी आ जाये मेरी ,
उस मुट्ठी को सीने से लगाकर जाऊ मै ,
                                    सीने से लगाकर जाऊ मै..       

ANJALI YADAV  KGMU

10 Comments

  1. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 14/06/2017
  2. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 14/06/2017
  3. SARVESH KUMAR MARUT SARVESH KUMAR MARUT 14/06/2017
  4. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 14/06/2017
  5. babucm babucm 14/06/2017
  6. Kajalsoni 14/06/2017
  7. Madhu tiwari Madhu tiwari 14/06/2017
  8. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 14/06/2017
  9. arun kumar jha arun kumar jha 15/06/2017

Leave a Reply