प्यारा रिश्ता – बिन्देश्वर प्रसाद शर्मा बिन्दु

 

मॉ बाप बेटों में ही अब सिमट गई है जिंदगी

जब बेटा बाप बना तो घिसट रही अब जिंदगी।

थोडे दिन ही प्यारे लगते पप्पु के नाना नानी

दादा दादी घर बैठ रोये पर बहु करे फुटानी।

भईया भाभी चार दिन दो दिन की ननद भौजाई

शाला नौकर बीबी का बन सौतन शाली घर आई।

चाचा चाची सुनने भर की कहने भर भाई भतीजी

रिश्ते नातों से क्या मतलब रहने लगे सब बीजी।

हर पति की यही कहानी बीबी बैठकर काटे चानी

पैसौं के लिए क्या नहीं करता खून पसीना पानी।

कभी बाप को नौकर कहता कभी माता को दाई

कहने नहीं देती दादा दादी बच्चों को है सिखाई।

अब तो तेरी बारी आई तुझे क्यों लगता है भारी

तेरे भी तो बच्चे तुझको देंगें भर भर मुॅह गाली।

इसीलिए ऐसा न करना दुनिया से तुम ड़रना

सेवा करना मॉ पिता की जहॉ कहीं भी रहना।

बच्चे को भी यहीं सिखाना पढ़ाना चाहे जितना

संस्कृति संस्कार ही देना मानवता से जिंतना।

सास ससुर अलग न समझो पति अलग न जानो

इसी दुनिया में जीना मरना अब बात हमारी मानो।

अपने घर की इज्जत पानी अब अपने घर ही राखो

बीज आम का बोकर ऐसे आम का फल ही चाखो।

 

बिन्देश्वर प्रसाद शर्मा   बिन्दु

16 Comments

  1. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 09/06/2017
    • Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 10/06/2017
    • Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 10/06/2017
  2. Madhu tiwari madhu tiwari 09/06/2017
    • Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 10/06/2017
  3. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 09/06/2017
    • Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 10/06/2017
  4. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 09/06/2017
    • Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 10/06/2017
  5. arun kumar jha arun kumar jha 09/06/2017
  6. Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 10/06/2017
  7. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 10/06/2017
    • Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 10/06/2017
  8. C.M. Sharma babucm 10/06/2017
    • Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 10/06/2017

Leave a Reply