अपने जन्मदिन पर

शीर्षक- अपने जन्मदिन पर
अपने जन्मदिन पर
मुझे ना कोई उपहार चाहिए
ना कोई प्यार चाहिए
आसमान में जो उड़ सके परिंदे बनकर
ऐसी बेटियों के जनम का अधिकार चाहिए
ओलिंपिक में जो जीता सके मैडले
ऐसी बहनों का प्यार चाहिए।
अपने जन्मदिन पर
मुझे इस बार
ना मिठाइयों का स्वाद चाहिए
ना पार्टियों का जुगाड़ चाहिए
बंद हो अनाथाश्रम बंद हो वृधाश्रम
घर की अन्दर की बैठको में
माँ बाप के बैठने का अधिकार चाहिए।
अपने जन्मदिन पर
ना गिफ्टो का संसार चाहिए
ना रिश्तों का दुलार चाहिए
बाँट सकूँ में दर्द सभी का
पहना सकूँ नंगे जिस्म पे कपड़े
बन सकूँ मैं हर कमजोर बेटी का पिता
बन सकूँ मैं हर बुजुर्गो का बेटा
बन सकूँ हर सहमी लड़की का भाई
अपने जन्मदिन पर
बस सिर्फ यही
ईश्वर से वरदान चाहिए।—-अभिषेक राजहंस

9 Comments

  1. Ram Gopal Sankhla Ram Gopal Sankhla 02/06/2017
    • Abhishek Rajhans 02/06/2017
  2. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar Prasad sharma 02/06/2017
  3. arun kumar jha arun kumar jha 02/06/2017
  4. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 02/06/2017
  5. Kajalsoni 02/06/2017
  6. SARVESH KUMAR MARUT SARVESH KUMAR MARUT 03/06/2017
  7. MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR 03/06/2017

Leave a Reply