संयुक्त व मज़बूत भारत – अनु महेश्वरी

बच्चों पे ज़्यादा सख्ती,
उन्हें झूठ बोलना सिखाती है,
उनपे ज्यादा नरमी भी,
राह से उन्हें भटका सकती है,
जीवन में संयम और अनुशासन के साथ,
चरित्रवान वो बने, बस इतना जरुरी है|

शिक्षा, सभी के लिए हो,
ज्ञान, केवल किताबी न हो,
वास्तविक ज्ञान से सफलता आती है,
सिखी बातो को, अब, प्रयोग में लाना है,
संपन्नता, किसी के सर, चढ़ के न बोले,
सब रहे सरलता से, बस इतना जरुरी है|

अभिव्यक्ति की हो आज़ादी भी,
उसके साथ हो जवाबदेही भी,
सबके अधिकारों की रक्षा अब हो,
किसीका भी दमन अब न होने दो,
संयुक्त व मज़बूत भारत के लिए,
सब रहे खुशहाल, बस इतना जरुरी है|

 
अनु महेश्वरी
चेन्नई

16 Comments

  1. C.M. Sharma babucm 30/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 30/05/2017
  2. angel yadav anjali yadav 30/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 30/05/2017
  3. Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 30/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 30/05/2017
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 30/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 30/05/2017
  5. Madhu tiwari madhu tiwari 30/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 31/05/2017
  6. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 31/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 31/05/2017
  7. Kajalsoni 31/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 31/05/2017
  8. MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR 31/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 31/05/2017

Leave a Reply