विश्वास – अनु महेश्वरी

विश्वास, वह जज़्बात है,
जो अपने अंदर से आए,
तो ज़िन्दगी का अँधेरा भी,
छटता हुआ सा नज़र आए|

विश्वास ही है, वह डगर,
जो हमें कठिन रास्तो पर,
जुटे रहने की हिम्मत देती|

विश्वास के सहारे ही,
चुनौती हो कोई सी भी,
मंज़िल हमें मिल ही जाती|

विश्वास ही है, जो हमें भी,
चट्टानों से भी, कभी कभी
टकराने का, साहस देती|

विश्वास कायम रख खुद पर,
नाविक लहरों से भी लड़ कर,
कस्ती ले ही आते है, तट पर|

विश्वास जब हमारा साथ निभाए,
मुश्किल राहो में भी, बिना डरे,
सच्चाई का साथ देना हमें सिखाए|

विश्वास, हौसला भी बढ़ाता, पर,
अति-विश्वास और विश्वास का,
फ़र्क समझना भी है ज़रूरी, वरना,
बेवजह की मुश्किलें भी आ जाती|

ज़रूरी है बस अपने आप से,
विश्वास कभी भी न कम हो,
ज़िन्दगी को खुलकर जिओ,
पुरे विश्वास के साथ जिओ|

 
अनु महेश्वरी
चेन्नई

22 Comments

    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  1. vijaykr811 vijaykr811 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  3. Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  4. Madhu tiwari Madhu tiwari 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  5. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  6. C.M. Sharma babucm 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  7. Kajalsoni 24/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/05/2017
  8. MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR 25/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 25/05/2017
  9. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 25/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 25/05/2017

Leave a Reply