बस एक माँ ही – अनु महेश्वरी

बस एक माँ ही,
कभी बददुआ नहीं देती,
हमेशा प्यार ही बरसाती|

बस एक माँ ही,
खुद भूखी रहकर भी,
अपने बच्चों को खिलाती|

बस एक माँ ही,
हर उलझन को अपनी,
प्यार से सुलझा देती|

बस एक माँ ही,
खुद दुखी रहकर भी हमेशा अपने,
बच्चे की सलामती की दुआ करती|

बस एक माँ ही,
अपने पहले हमेशा ही,
पुरे परिवार का सोचती|

बस एक माँ ही,
अपनी हर तकलीफों को भी,
अपनी मुस्कुराहट से छुपा लेती|

बस एक माँ ही,
सब से न्यारी होती,
सब से प्यारी होती|

 
अनु महेश्वरी
चेन्नई

14 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 14/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 14/05/2017
  2. shikha nari 14/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 14/05/2017
  3. Bindeshwar prasad sharma bindeshwar prasad sharma 14/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 14/05/2017
  4. MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR 14/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 14/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 15/05/2017
  5. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 15/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 15/05/2017
  6. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 16/05/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 16/05/2017

Leave a Reply