* लड़ाई आरपार हो *- मधु तिवारी

* लड़ाई आरपार हो *

फैसले का वक्त है लड़ाई आरपार हो
हम सभी हों एकमत न कोई तकरार हो

जुल्म करते हो सदा आदिवासी हित के नाम पर
सोच लो ऐ नक्सली!जल्द खबरदार हो

लाल -लाल रटते हैं ये कर दो इनको लाल ही
गुंजाइशे नहीं हैअब कि मान मनुहार हो

देर जो हो जायेगा तो लोग भूल जाएंगे
तुरंत ही सबक सिखा ,न ऐसा बार – बार हो

कांप जाए थरथराके भीरु नक्सली सभी
मेरे वीर फौजियो! ऐसा ललकार हो

मारो घूस के उनके बिल छुपे जहाँ भी हो कहीं
बच न पाए कोई ऐसा जो भी गुनहगार हो

घड़ी है फैसले की ये फौरी ही करो अभी
सत्ता तेरे हाथ मे तुम्हीं तो सरकार हो

मधु तिवारी

18 Comments

  1. arun kumar jha arun kumar jha 29/04/2017
  2. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 30/04/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 30/04/2017
  4. mani mani 30/04/2017
  5. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 30/04/2017
  6. C.M. Sharma babucm 30/04/2017
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 01/05/2017
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 01/05/2017
  7. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 01/05/2017
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 01/05/2017
  8. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 01/05/2017
  9. Madhu tiwari Madhu tiwari 01/05/2017

Leave a Reply