रोलिंग कुर्सी – अनु महेश्वरी

बैठ, रोलिंग कुर्सी पे,
घड़ी की सुई को, निहारती आँखे,
कभी नज़रे उठती है, दरवाजे की तरफ़,
कभी टेबल पे रखें, फ़ोन की तरफ है|

आस उसने अभी भी, छोड़ी नहीं है,
बस इसी उम्मीद में है, कब घंटी बजे,
फिर बेमन से कुर्सी को, डोलाने लगती है,
कभी अपने बीते कल में, झाकने लगती है|

कभी, कितनी रौनक थी इस घर में,
बच्चों की तरह तरह की आवाज़ों से,
घर गूंजता रहता था हर वक़्त,
आज जहाँ सन्नाटा पसरा है|

उसके जन्मदिन पर यह कुर्सी,
भेंट में मिली थी, साथ में कुछ सपनें भी,
अपने खास ने कहा था, जब बूढ़ी हो जाओगी,
अपने नाती – नातीन के साथ खेलना, बैठ इस पे|

आज कुर्सी तो वही है,
बस नाती- नातीन की जगह उनकी तस्वीर है,
जिसे हाथ में लिए वह बैठी रहती कुर्सी पे,
जो, अब बस उसकी, अकेली साथी है|

चारो तरफ, अब अजीब सा सन्नाटा है,
ओर बस घड़ी की सुई की टिक टिक है,
या कभी तेज होती उसकी दिल की धरकने है,
जो उस सन्नाटे को, चीड़ देती है|

आँखे भी अब, पथरा सी गयी है,
आंसू भी अब उसके, सूखने लगे है,
अब भी दरवाजे की घंटी बजती ज़रूर है,
जब खाना देने, डब्बावाला आता है|

अभी भी उसकी उम्मीदें, कायम है,
और न ही वह शिकायते करती है,
कभी तो लौट कर वे, उसकी सुध लेंगे,
इसी इंतजार में, वह वक़्त बिता रही है|

माँ है, सभी से यही कहती रहती है,
बच्चें किसी काम में फंस गए होंगे,
माँ है, जिसकी ममता अपने बच्चों के लिए,
कभी भी, ग़लत सोच ही नहीं सकती है|

बैठ, रोलिंग कुर्सी पे,
घड़ी की सुई को, निहारती आँखे,
कभी नज़रे उठती है, दरवाजे की तरफ़,
कभी टेबल पे रखें फ़ोन की तरफ है|

 
अनु महेश्वरी
चेन्नई

20 Comments

  1. chandramohan kisku chandramohan kisku 22/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 22/04/2017
  2. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 22/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 22/04/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 22/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 22/04/2017
  4. Abhishek Rajhans 23/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 23/04/2017
  5. babucm babucm 23/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 23/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/04/2017
  6. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 24/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/04/2017
  7. shivdutt 24/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/04/2017
  8. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 24/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 24/04/2017
  9. Madhu tiwari Madhu tiwari 25/04/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 25/04/2017

Leave a Reply