६०. अब तो आजा ………………….|गीत| “मनोज कुमार”

अब तो आजा आजा आजा अब तो आजा
आजा जानेजा जानेजा आजा आजा……….२
तेरी सूरत बिन देखे अरसा हो गया आजा
आजा जानेजा जानेजा आजा आजा……….२

अब तो आजा आजा………………………………..

कर दिया पागल तूने तेरी मुस्कान ने
बरसों से खड़ा हूँ रानी तेरे इंतजार में
ऐसे ना जा छोड़ दिल दिल ना दुखाना
गमों का पहाड़ टूटा ऐसे ना रुलाना
हो गये बदनाम सजनी अब तो तू आजा
आजा जानेजा जानेजा आजा आजा

अब तो आजा आजा………………………………..

हर घड़ी शामों शहर राह निहारूँ
आजा कहीं से देजा दीद पुकारूँ
मुश्किल भरा दौर है संग देने रानी आजा
हमको सिखाने प्यार बनके परी आजा
फिर से हुस्न के तू जलवे दिखाजा
आजा जानेजा जानेजा आजा आजा

अब तो आजा आजा………………………………..

जिन्दगी भी बेरंग हो गयी जबसे तू चली गयी
घुटने लगा दम मेरा थी ऑक्सीजन चली गयी
आ भी जाओ साजन तुम बिन मन नही लगता
रातें हैं ये सूनी तुम बिन दिन भी सूना लगता
जख्मी हुआ ये दिल आजा दिल है दीवाना
आजा जानेजा जानेजा आजा आजा

“मनोज कुमार”

One Response

  1. Kajalsoni 09/04/2017

Leave a Reply