५८. भोले आ जाओ भोले आ जाओ.……|भजन| “मनोज कुमार”

भोले आ जाओ भोले आ जाओ…………………….४

भोले कर दो बेड़ा पार
खुशियों की करो बरसात ……………….२
हम बालक तेरे है शम्भू
हमपे दया करो नटराज………………….२
मन मंदिर में तुम आ जाओ
मेरी खाली है झोली भर जाओ ……….२
भोले आ जाओ भोले आ जाओ…………………….४

तेरा रूप सलोना है शम्भू
तेरा डमरू बजे दिन रात………………२
तेरे भक्त खड़े तेरे द्वार
आओ शंकर करो उद्धार………………..२
है भस्म रमैया आ जाओ
भग्तों के कष्ट मिटा जाओ……………२
भोले आ जाओ भोले आ जाओ…………………….४

मस्तक पर सोहे चन्द्र तेरे
गले नाग कमण्डल हाथ लिये………………२
सब विनती करे बारम्बार
चरणों का बना लो दास……………………..२
आशुतोष तुम कृपा कर जाओ
है नीलकंठ तुम आ जाओ…………………..२
भोले आ जाओ भोले आ जाओ…………………….४

जब तक में रहूँ तेरा नाम जपूँ
तेरा भजन करूँ दिन रात ………………..२
बस यही कामना है शम्भू
तेरे करता रहूँ गुणगान ……………………२
है गंगा धारी आ जाओ
“मनोज” को दर्शन दे जाओ……………….२
भोले आ जाओ भोले आ जाओ…………………….४
“मनोज कुमार”

3 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 08/04/2017
  2. babucm babucm 08/04/2017
  3. Kajalsoni 09/04/2017

Leave a Reply