bachhi ka parichay

बच्ची का परिचय
———————-

अरे वो पथिक कँहा जा रहे हो?
सत्य की खोज में हो या सुख ढूंढ़ रहे हो ?
मानव जीवन की गूढ़ तत्व जानना चाहते हो
सही धर्म कौन -सा है ,जानना चाहते हो तो
मेरी गॉड में है ,इस लड़की का
परिचय जानना होगा
दया दर्द ,भाईचारा का सन्देश
और सत्य धर्म की झलक पाओगे।
सूर्य की सुबह किरण
चन्द्रमा की चांदनी प्रकाश
यही पाओगे सोने का समाज साहस
और करोगे आलोक।
गांधीबाबा की सत्य पर विश्वास
गौतम बुद्ध की दया -प्यार
दुश्मनों की नाश हेतु झाँसी रानी की
आश्चर्जनक शक्ति ये सब इनके पास है।
घर को संभालनेवाली
ये घर की लक्ष्मी है
निराशा में आशा देनेवाली
ठंडी पानी की गगरी भी है
आपातकाल में ,
दुश्मनों की आगमन होने पर
साहस का संचार होता है
इनके भी छाती पर।
मर्दों जैसा परिधान कर
मृत्यु से न डरकर
नवजातक को पीठ में बांधकर
जाती है दुश्मनों को रोकने
लड़ाई की मैदान
जीत का नगाड़ा बजाती है
प्राण को त्याग कर।

——————चंद्र मोहन किस्कु

3 Comments

  1. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 08/03/2017
  2. babucm babucm 08/03/2017
  3. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 09/03/2017

Leave a Reply