ज़िन्दगी को खुल के हम जी लें – अनु महेश्वरी

जी लें जी लें
ज़िन्दगी को खुलके हम जी लें
रुक जाए साँसे उसके पहले
जी लें जी लें
ज़िन्दगी को खुल के हम जी लें।

हँस लें हँस लें
खिल खिलाकर हम हँस लें
उड़ जाए प्राण उसके पहले
जी लें जी लें
ज़िन्दगी को खुल के हम जी लें।

बोलें बोलें
मीठे बोल हम बोलें
बन्द हो जाए आँखे उसके पहले
जी लें जी लें
ज़िन्दगी को खुल के हम जी लें।

कर लें कर लें
कुछ अच्छे कर्म हम कर लें
वक़्त बीत जाए उसके पहले
जी लें जी लें
ज़िन्दगी को खुल के हम जी लें।

जी लें जी लें
ज़िन्दगी को खुलके हम जी लें
रुक जाए साँसे उसके पहले
जी लें जी लें
ज़िन्दगी को खुल के हम जी लें।

 
अनु महेश्वरी
चेन्नई

12 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/03/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 04/03/2017
  2. Madhu tiwari Madhu tiwari 04/03/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 04/03/2017
  3. Kajalsoni 04/03/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 04/03/2017
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 04/03/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 04/03/2017
  5. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 04/03/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 04/03/2017
  6. babucm babucm 06/03/2017
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 08/03/2017

Leave a Reply