हमारे नेता—डी के निवातिया

विकास की डोर थाम ली है हमारे नेताओ ने ।
अब नये शमशान और कब्रिस्तान बनायेंगे।।
कही भूल न जाओ तुम लोग मजहब की बाते
याद रखना इंसानियत को इसी से मिटायेंगे ।।
!
!
!
डी के निवातिया

14 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 21/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 21/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  3. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 21/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  4. C.M. Sharma babucm 21/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  5. Kajalsoni 21/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  6. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 21/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  7. mani mani 23/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 23/02/2017

Leave a Reply