“तेरे बिना”…… काजल सोनी

तु नहीं तो हर पल
जिंदगी में कमी सी लगती हैं ।
होठ मुस्काते हैं मगर
आँखों में नमी सी लगती हैं ।
चल रही हुं शायद
कि सांसें है अभी बांकी
यही तो मेरे अरमानों की
खुदखुशी सी लगती है ।

तेरे बिना
जिंदगी में इम्तिहान नहीं अब तो
इम्तिहानो में ही ये जिंदगी सी लगती है ।

“काजल सोनी”

20 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 21/02/2017
    • Kajalsoni 22/02/2017
      • Kajalsoni 22/02/2017
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 21/02/2017
    • Kajalsoni 22/02/2017
  3. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 21/02/2017
    • Kajalsoni 22/02/2017
  4. babucm babucm 22/02/2017
    • Kajalsoni 22/02/2017
  5. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 22/02/2017
    • Kajalsoni 22/02/2017
  6. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
    • Kajalsoni 22/02/2017
  7. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 22/02/2017
    • Kajalsoni 22/02/2017
  8. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 23/02/2017
  9. mani mani 23/02/2017
    • Kajalsoni 23/02/2017
  10. Lucky 08/03/2017
  11. Kajalsoni 08/03/2017

Leave a Reply