पलट कर देख ले इक बार मुझ को तू

पलट कर देख ले इक बार मुझ को तू |
मेरी आँखों में ही देखेगी खुद को तू ||

कहे सारा जमाना तेरा दीवाना |
वही हूँ हमनवां मैं ढूंढे जिस को तू ||

बसी है धङकनो में मेरी तू ही रे |
बना ले हमसफ़र इक बार मुझ को तू ||

नहीं भाये सिवा तेरे मुझे कोई |
मेरे निकट सनम आने दे खुद को तू ||

जला बैठा “मनी” दिल में शमां तेरी |
फ़िदा कर दे बिना सोचे ही खुद को तू ||

मनिंदर सिंह “मनी”

4 Comments

  1. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 12/02/2017
  2. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 12/02/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 12/02/2017
  4. C.M. Sharma babucm 13/02/2017

Leave a Reply