बात खुद से ही….सी. एम्. शर्मा (बब्बू)….

नहीं रहा कोई भी इस जहां में सदा के लिए …
रहा दिलों में वही जीया जो प्यार से जहां के लिए…
न जाने फिर भी ये दिल क्यूँ नहीं समझता…
खो रहा ज़मीं कुछ पलों के आसमाँ के लिए….

नज़र मिलाओ ऐसे के हर आशा विश्वास हो जाए…
मुस्कुराओ ऐसे के हर दिल प्यार से भर जाए…
मिलो सबसे ऐसे के जैसे मिले हो खुद से ही….
गुज़रो जहां से ऐसे के हर दिल में रहन हो जाए….
\
/सी. एम्. शर्मा (बब्बू)….

14 Comments

  1. Shivani Mishra 04/02/2017
    • babucm babucm 06/02/2017
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/02/2017
    • babucm babucm 06/02/2017
  3. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 04/02/2017
    • babucm babucm 06/02/2017
  4. Kajalsoni 05/02/2017
    • babucm babucm 06/02/2017
  5. Madhu tiwari Madhu tiwari 06/02/2017
    • babucm babucm 07/02/2017
  6. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 06/02/2017
    • babucm babucm 07/02/2017
    • babucm babucm 09/02/2017

Leave a Reply