“नाराज नहीं मै तुझसे”….. काजल सोनी

तुम खफा हो गई हो मुझसे ,
पर नाराज नहीं मै तुझसे ।

हैं लाखों हसीन चेहरे ,
लगे कोई हसीन न तुझसे ।

मै शायर बन फिरता रहूँ ,
मै गम में डूबा यु रहूँ ।

तुझे बार बार तकता रहूँ ,
करो कोई शिकायत तुम हमसे ।

रह कर दुर निगाहों से ,
क्या वाकिफ नहीं तुम हमसे ।

जाओ दुर चाहे कितने
कभी जा सकोगी इस दिल से ।

तुम खफा हो गई हो मुझसे,
पर नाराज नहीं मै तुझसे ।।

“काजल सोनी”

15 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 06/02/2017
    • Kajalsoni 10/02/2017
  2. Madhu tiwari Madhu tiwari 06/02/2017
    • Kajalsoni 10/02/2017
  3. C.M. Sharma babucm 07/02/2017
    • Kajalsoni 10/02/2017
  4. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 07/02/2017
    • Kajalsoni 10/02/2017
  5. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 07/02/2017
    • Kajalsoni 10/02/2017
      • Kajalsoni 10/02/2017
  6. mani mani 07/02/2017
    • Kajalsoni 10/02/2017
  7. Kajalsoni 10/02/2017

Leave a Reply