अम्मा(people chief minister)

दिनभर रोती आँखे पलक झपकाने से, कतराती रही कही अनहोनी ना हो जाये

ख़बर मिलीं………..
तो आसं लगाये बैठी….
शायद अभी….
शायद अभी….
शायद अभी तो अम्मा ऊठ जाये,
ऊठ कर इतना ही बोल दे , “मै ठीक हूँ “

क्या हाल हो गया है पूरी बस्ती का,
ऐक साये के गुम हो जाने से….
पूरी बस्ती ही अनाथ सी हो गयी……

3 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 01/02/2017
  2. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 02/02/2017

Leave a Reply