गणतंत्र दिवस

Untitled4

सुबह पोह फटने के साथ
चिड़ियों की चहचहाट के साथ
फूलों की खुशबू के साथ
नदी की लहरों के साथ
मंदिर की घंटी के साथ
बादल को चीरता हुआ
संपूर्ण भारत को रोशन करता हुआ
आया है गणतंत्र दिवस

ये उत्सव है जन जन का
भाई चारे का, संविधान का
बलिदान का, देशवासी का
राष्ट्र का, खुशियो का
अभिनंदन है गणतंत्र दिवस का

गर्व है शहीदों पर
न होगी जाया कुर्बानी
न होगा कभी सूर्य अस्थ
आजाद भारत का
देश महफूज़ रहेगा
वीरो के हवाले
हा फैलेगा परचम
पुरी दुनिया में

गर्व है भारत पर
निवासी है हम
गणतंत्र भारत के
लोकतंत्र है देश हमारा
भारतीय है हम
कहो उत्साह से

ये खुवाहिश है मेरे खुदा से
में हर बार जन्म लू
मर के भारत में
न देना तु संपत्ति
न देना तु यश
देना देशभक्ति का
जस्बा इस दिल में
सलाम है हमारा
प्यारे तिरंगे को
Happy Gantantra Diwas.

4 Comments

  1. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 25/01/2017
    • sumit jain sumit jain 30/01/2017
  2. babucm babucm 27/01/2017
    • sumit jain sumit jain 30/01/2017

Leave a Reply