कामयाबी का सूत्र – मनुराज वार्ष्णेय

ईश्वर की आराधना में बहुत शक्ति होती है
माँ बाप की सेवा ही सच्ची भक्ति होती है
दुनिया के बन्धनों में फँसकर कुछ नही मिलता
भवपार आकर के ही मोक्ष की प्राप्ति होती है

कवि- मनुराज वार्ष्णेय manuraj varshney

2 Comments

  1. C.M. Sharma babucm 22/01/2017

Leave a Reply