यह रचना “बेटियाँ” प्रतियोगिता में सम्मलित की गयी है।

“माँ मैने क्या कसूर किया” नामक शीर्षक
से प्रकाशित मेरे द्वारा रचित रचना
http://sahityapedia.com प्रतियोगिता
में शामिल है |अतः आपसे अनुरोध है |
यदि आपको मेरी रचना पसंद आये तो
अपना अमूल्य वोट देने की कृपा करें | मैं
उसके लिए आपका हमेशा ऋणी रहूँगा
वोटिंग के लिये कृपया इस लिंक पर जाये

माँ मैने क्या कसूर किया

3 Comments

  1. babucm babucm 20/01/2017
  2. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 20/01/2017

Leave a Reply