प्यार के लिये माफ़ी

उसकी मुस्कान मे कुछ अलग बात है
उसके हुस्न ओ जाम मे कुछ अलग ही बात है
देख कर उसे मै ऐसे फंसा यारो की
उसकी नकारने की बात मै भी नई सौगात है
उसे देखा मैने और बोल दी मन की बात
प्रेम पत्र और आई लव यू के साथ
पता नही क्या बुरा लगा उसे इसमे
उसने कहा अब न करना जिन्दगी मै
कभी भी मेरे साथ तुम बात
सुनकर ये सब लगा मेरे दिल को आघात
मेरा दिल हो गया था लाचार
और बोल बैठा ऐसे शब्द जो उसे लगे नागवार
कर देना तुम इस पागल को माफ़
शायद हो तुम्हे मुझसे अब भी कोई सरोकार
लिखता मै और भी जो था मुझे कहना
पर सिखाया है मुझे मेरे परिवार ने मर्यादा मे रहना

16 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 30/12/2016
    • कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 30/12/2016
  2. C.M. Sharma babucm 30/12/2016
    • कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 30/12/2016
  3. Madhu tiwari Madhu tiwari 30/12/2016
    • कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 30/12/2016
    • Madhu tiwari Madhu tiwari 30/12/2016
  4. mani mani 30/12/2016
  5. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 30/12/2016
  6. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 30/12/2016
  7. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 30/12/2016
  8. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 30/12/2016
  9. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 30/12/2016
  10. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 30/12/2016
  11. कृष्ण सैनी कृष्ण सैनी 31/12/2016

Leave a Reply