पाठ

जूतों के नीचे भी आ सकती है
दुर्लंघ्य पर्वत की मदांध चोटी
परंतु इसके लिए ज़रूरी है-
पहाड़ों के भूगोल से कहीं ज़्यादा
हौसलों का इतिहास पढ़ना

Leave a Reply