मुलाकात खुदा से….

जिंदगी देने की ताकत अमृत में होती है जहर में नहीं ,
अपनापन कुछ ही जगह होता है हर घर में नहीं ,
अरे हमें आज तक खुदा भी बहुत बार मिल चुका है ,
क्योंकी हम उसे इन्सान में ढुंढते है पत्थर में नहीं …

10 Comments

  1. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 13/12/2016
    • M Sarvadnya M Sarvadnya 13/12/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 14/12/2016
    • M Sarvadnya M Sarvadnya 14/12/2016
  3. babucm babucm 14/12/2016
    • M Sarvadnya M Sarvadnya 14/12/2016
  4. Rushikesh 14/12/2016
    • M Sarvadnya M Sarvadnya 14/12/2016
  5. Deepali 14/12/2016
    • M Sarvadnya M Sarvadnya 14/12/2016

Leave a Reply