प्यारा हमसफ़र – शिशिर मधुकर

कोई तो बात थी तूने भरा जो अपनी बाँहों में
यूँ ही नहीँ बस जाता कोई कातिल निगाहों में
जिन्दगी के सफ़र में ऐसे कई मुकाम आते हैं
मिलता हैं प्यारा हमसफ़र जब चलती राहों में

शिशिर मधुकर

14 Comments