मुफ्त ज्ञान—मुक्तक —डी. के. निवातिया

ना जाने किस डगर पे चल पड़ा इंसान
बात बात पर दे रहा मौत का फरमान
क्या सत्य-असत्य,क्या अच्छा या बुरा ,
सब ताक पे रख बाँट रहा मुफ्त ज्ञान !!
!
!
!
डी. के. निवातिया _____!!!

10 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 08/12/2016
    • निवातियाँ डी. के. निवातियाँ डी. के. 15/12/2016
  2. ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 08/12/2016
    • निवातियाँ डी. के. निवातियाँ डी. के. 15/12/2016
  3. babucm babucm 09/12/2016
    • निवातियाँ डी. के. निवातियाँ डी. के. 15/12/2016
    • निवातियाँ डी. के. निवातियाँ डी. के. 15/12/2016
  4. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 09/12/2016
    • निवातियाँ डी. के. निवातियाँ डी. के. 15/12/2016

Leave a Reply