आस्था – अनु महेश्वरी

तुम मानते नहीं भगवान को
यह है तुम्हारा करम
मैं मानती हूं ईश्वर को
यह है मेरा धरम
बोलने की आज़ादी दी होगी
संगविधान ने तुमको
चोट करने का हक़ आस्था पे मेरी
नहीं दिया है मैंने तुमको…

 

अनु महेश्वरी
चेन्नई

12 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 06/12/2016
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 06/12/2016
  2. Madhu tiwari Madhu tiwari 06/12/2016
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 06/12/2016
  3. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 06/12/2016
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 06/12/2016
  4. C.M. Sharma babucm 07/12/2016
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 07/12/2016
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 07/12/2016
  5. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 07/12/2016
    • ANU MAHESHWARI ANU MAHESHWARI 07/12/2016

Leave a Reply