पग पग “” “”””सविता वर्मा

पग पग बाधें स्नेह का बन्धन

राह चलु अंगड़ाई ले

तुम्हें छोड़ कैसे मैं जाऊ

बागो की अमराई में।।।।

6 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 15/11/2016
  2. mani mani 15/11/2016
  3. डॉ. विवेक डॉ. विवेक 15/11/2016
  4. C.M. Sharma babucm 15/11/2016
  5. Saviakna Savita Verma 15/11/2016

Leave a Reply