हाल-ए-दिल (विवेक बिजनोरी)

ऐ ख़ुदा कभी वो मेरे जज़्बात तो समझे,
क्या गुजरती है मेरे दिल पे वो हालात तो समझे ….
अपनी एक जिद्द पर अड़ी हुए हैं वो भी,
मैं चाहता हूँ क्या कभी वो बात तो समझे ….

विवेक कुमार शर्मा

5 Comments

  1. mani mani 11/11/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 11/11/2016
  3. C.M. Sharma babucm 11/11/2016
  4. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 11/11/2016

Leave a Reply