खास रिश्ते – शिशिर मधुकर

जब दिल में दर्द होता है अपनों की याद आती है
तब ही तो ये दुनियाँ सभी खास रिश्ते निभाती है

अपनी पीड़ा तुम्हें बताऊँ मैं कब से तड़प रहा था
सुकून ना हो जीवन में तो फ़िर नीदे कहाँ आती हैं

गैरों की उडानो को कोई जब अपना समझ बैठे
ऐसे लोगों के जहनॉ से कभी कुंठा नहीँ जाती है

मुहब्बत जिनके सीनों में हर जगह भरी रहती है
लाखों फूल खिलते है जब उनकी सदा आती है

मधुकर सभी के चेहरे उनके दिलों का आईना हैं
इसमें छुपे राजों को ही यहाँ हर सूरत दिखाती है

शिशिर मधुकर

8 Comments

  1. C.M. Sharma babucm 11/11/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 11/11/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 11/11/2016
  2. Dr Swati Gupta Dr Swati Gupta 11/11/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 11/11/2016
  3. MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR 13/11/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 13/11/2016

Leave a Reply