करीब तो आने दे —-डी. के निवातियाँ

beautiful-moments-of-love-photography-15

एक बार मुझे तू अपने करीब तो आने दे !
हसरत आज इस दिल की ये मिट जाने दे !!

किस तरह तड़पा है ये दिल,  एक तेरे बैगर
धड़कन इसकी जरा तेरे कानो में घुल जाने दे !!

सदियाँ बीत गयी है अपनी दीदार किये हुए  
मेरे हुजूर एक पल भी अब जाया न होने दे  !!

मिलन के मौके तो मिले तमाम थे जिंदगी में
नामंजूर था जमाने को, हुआ खफा तो होने दे !!

शायद कल हो ना हो ये हसीं पल अपनी जिंदगी में
ना रोक इस पल को “धर्म” की पनाहो में तू आने दे !!
!
!
!
————डी. के निवातियाँ ———–

18 Comments

  1. Savita Verma 08/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 08/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
  3. babucm babucm 08/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
  4. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 08/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
  5. Markand Dave Markand Dave 09/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
  6. mani mani 09/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
  7. डॉ. विवेक डॉ. विवेक 09/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016
  8. MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR 10/11/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 10/11/2016

Leave a Reply