तन्हा शब्द

अश्कों की स्याही से दिल की गहराई से
तन्हा शब्दों में जज्बात लिख दिए
बेहताशा अंधेरो में जब – जब  नाम ए मोहब्बत लिखी
तब-तब यादो के दर्पण में तस्वीर मोहब्बत देखी
–रियाज़ तनवीर शेख —-

3 Comments

  1. mani mani 02/11/2016
  2. riyazsheikh Riyaz Tanveer Sheikh 02/11/2016
  3. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 02/11/2016

Leave a Reply