जीवनसाथी से है ये प्यारा संसार

तुम से ही आयी मेरे जीवन में बहार है,
तुम से ही रौशन हुआ मेरा ये संसार है।
मेरी चूड़ियों की खनखन में तुम,
मेरी पायल की छमछम में तुम,
मेरी बिंदी की चमक में तुम,
तुम से ही आया मेरे इस,
सौन्दर्य में निखार है,
तुम से ही आयी मेरे जीवन में बहार है,
तुम से ही रौशन हुआ मेरा ये संसार है।।
मेरी हर साँस में हो तुम,
मेरे मन मंदिर में तुम,
मेरी खिली हुई मुस्कान में तुम,
तुम से ही मिला उन्नति उत्कर्ष का साथ,
और झिलमिलाता हुआ ये परिवार है,
तुम से ही आयी मेरे जीवन में बहार है,
तुम से ही रौशन हुआ मेरा ये संसार है।।
By: Dr Swati Gupta

8 Comments

  1. mani mani 19/10/2016
    • Dr Swati Gupta Dr Swati Gupta 20/10/2016
  2. babucm babucm 19/10/2016
    • Dr Swati Gupta Dr Swati Gupta 20/10/2016
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 20/10/2016
    • Dr Swati Gupta Dr Swati Gupta 20/10/2016
  4. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 20/10/2016
    • Dr Swati Gupta Dr Swati Gupta 20/10/2016

Leave a Reply