श्रद्धा और श्राद्ध

श्रद्धा से नमन होगा
श्राद्ध ये सफल होगा

अपनी मर्जी के मालिक
सब यहाँ दिखते हैं
बडो के प्रति बड़प्पन
वाले कहाँ मिलते हैं !!

दम्भ का दमन होगा
श्राद्ध ये सफल होगा

मातृ पितृ देवो भव
दिल में जो बसायेंगे
उनके आशीर्वचन से
आगे बढ़ जायेंगे !!

मन निर्मल होगा
श्राद्ध ये सफल होगा

होंगे अमर ये पितर
बन्दगी से वंदन हो
उनकी अस्मिता के लिये
तन मन समर्पन हो !!

निष्ठा से तर्पण होगा
श्राद्ध ये सफल होगा

होगा अनादर जो कभी
पुरखों के विचारों का
मिलता है फल सबको
अपने व्यवहारो का !!

भाव से भजन होगा
श्राद्ध ये सफल होगा
श्रद्धा से नमन होगा
श्राद्ध ये सफल होगा!!
!!!
!!!

डॉ.सी.एल.सिंह

4 Comments

  1. Markand Dave Markand Dave 28/09/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/09/2016
  3. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad sharma 28/09/2016

Leave a Reply