सो बातो की एक बात

मैं आया या आपने बुलाया
एक ही तो बात थी
प्याला स्नेह का
मेने पीया तुमने पिलाया
एक ही तो बात थी
मैं क्यो आया 
ना मैने पूछा 
ना  आप लोगो ने जाना
एक ही तो बात थी
तुम चले गए
ना मैने रोका 
ना तुम ने पीछे देखा
एक ही तो बात थी 
दिल मेरा टूटा या 
तुम्हारा टूटा
एक ही तो बात है
प्याला स्नेह का 
दोनो से छूटा
एक ही तो बात है
ना तुम्हारी जुबां 
पर नाम है मेरा
ना मेरी जुबां पर 
नाम है तुम्हारा
एक ही तो बात है
सोच मे मेरी 
कल भी तुम थे
सोच मे मेरी 
आज भी तुम हो 
सौ बातो की एक बात है

कपिल जैन

8 Comments

  1. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 11/09/2016
    • कपिल जैन कपिल जैन 11/09/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 11/09/2016
  3. कपिल जैन कपिल जैन 11/09/2016
  4. babucm babucm 12/09/2016
    • कपिल जैन कपिल जैन 12/09/2016
  5. Kajalsoni 12/09/2016
  6. कपिल जैन कपिल जैन 12/09/2016

Leave a Reply