संत मदर टेरेसा – शिशिर मधुकर

दबे कुचले और बीमारों की सेवा में जो जीवन लगा दे
ऐसा व्यक्ति इस जहाँ में कभी आम नही हो सकता है
जब तक दिल निष्पाप दया करुणा से परिपूर्ण ना हो
मुफलिसो के संरक्षण का कोई काम नही हो सकता है
मदर टेरेसा इन सब गुणों की एक बड़ी गहरी खान थी
उनकी हस्ती और सीख इसलिए पूरे विश्व में महान थी
उनकी पुनीत छवि से लाखों ने सुख शांति को पाया है
वेटिकन ने उचित ही तब माता को एक संत बनाया है

शिशिर मधुकर

16 Comments

  1. babucm C.m sharma(babbu) 04/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/09/2016
  2. MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR 04/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/09/2016
  3. Kajalsoni 04/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/09/2016
  4. Uttam Uttam 04/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/09/2016
  5. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 04/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 04/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 06/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 06/09/2016
  6. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 05/09/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 06/09/2016

Leave a Reply